वृद्धाश्रम में अपनी माँ को भेजने वालों, किसी कीमत पर, तुम लोगों को जन्नत मिल नहीं सकती’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *